क्या अलीगढ विश्वविद्यालय में लगे मोदी ड्रैकुला वाले पोस्टर

क्या अलीगढ विश्वविद्यालय में लगे मोदी ड्रैकुला वाले पोस्टर

क्या अलीगढ विश्वविद्यालय में लगे मोदी ड्रैकुला वाले पोस्टर

आजकल सोशल मीडिया पर एक पोस्टर “Modi the Dracula of Kashmir” वाले नारे के साथ वायरल हो रहा है। और सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि यह पोस्टर अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय “AMU” में लगाया गया है। अगर सोशल मीडिया की मानें तो क्या अलीगढ विश्वविद्यालय में लगे मोदी ड्रैकुला वाले पोस्टर?

कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35A हटने के बाद भारत सरकार का देश विदेश में काफी विरोध हो रहा है और इन्ही विरोधों के बीच से ये “Modi the Dracula of Kashmir” वाला पोस्टर भी सोशल मीडिया पर आ गया।

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट

तो आईये देखते है कि कैसे लोगों ने पोस्टर की फोटो को सोशल मीडिया पर इस दावे के साथ शेयर किया कि यह पोस्टर उत्तर प्रदेश के अलीगढ जिले में लगे है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

हिन्दू चौधरी, ने अपने फेसबुक अकाउंट में भी इसी दावे के साथ पोस्टर को शेयर किया है और 200 से ज्यादा लोगों ने इसे शेयर भी किया है।

 

hindu-chaudhary-modi-dracula-of-kashmi

इसी तरह लोग अफवाह को अपने सोशल मीडिया अकाउंट में शेयर किया और अफवाह वायरल होती चली गई।

ये भी पढ़ें: क्या समाजसेवी अन्ना हज़ारे ने सोनिया गाँधी के पैर छूकर लिए आशीर्वाद ?

क्या अलीगढ विश्वविद्यालय में लगे मोदी ड्रैकुला वाले पोस्टर – वायरल सच 

जब हमारी टीम ने इस वायरल पोस्टर की हक़ीक़त जानने की कोशिश की। तो पता चला कि यह पोस्टर अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय में नहीं लगा था। बल्कि हक़ीक़त में यह पोस्टर लंदन की है जब वहां लोग भारत सरकार द्वारा कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35A हटाने का विरोध प्रदर्शन कर रहे थे।

 

 

सबसे पहले यह वीडियो “Shaykh Sulaiman Gani” ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट में पोस्ट किया था। उनके सोशल मीडिया अकाउंट के अनुसार वह एक पत्रकार हैं और लंदन में ही कार्यरत हैं। जब यह प्रदर्शन लंदन में हो रहा था तो उस समय यह वही पर मौजूद थे और प्रदर्शन के प्रत्यक्षदर्शी थे।

 

हमे इस बात की भी जानकारी मिली है कि अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने उस शक्श के खिलाफ FIR दर्ज कराया है जिसने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर इस पोस्टर को साझा करते हुए दावा किया था कि ये पोस्टर AMU में लगा है।

अलीगढ पुलिस ने अपने ऑफिशल ट्वीटर अकाउंट पर ट्वीट करके इस बात की पुष्टि भी की है कि यह पोस्टर AMU में कहीं भी नहीं लगा है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 5 अगस्त 2019 को भारत सरकार ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35A हटा दिया है, जिसके बाद सोशल मीडिया पर अनेकों फेक न्यूज़ शेयर किये जा रहे है। कृपया किसी भी न्यूज़ की वास्तविकता जाने बिना सोशल मीडिया पर शेयर न करें।

 

Share the News and Let the people know the truth
Related Posts

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this:
Read previous post:
rajsthan-tak-pakistan-flag
POK के मुस्लिमों के द्वारा पाकिस्तान का झंडा जलाये जाने का वायरल सच

आज कल सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमे कुछ POK के मुस्लिमों के द्वारा पाकिस्तान का...

Close