निर्भया केस के नाबालिग आरोपी की फोटो का वायरल सच

निर्भया केस के नाबालिग आरोपी की फोटो का वायरल सच

निर्भया केस के नाबालिग आरोपी की फोटो का वायरल सच

 

दिसंबर 2012 में दिल्ली में हुए निर्भया केस के बारे में कौन नहीं जानता? जिसमें पीड़िता की बड़ी बेरहमी के साथ दुष्कर्म करके हत्या कर दी गई थी। उस केस में सभी 6 आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार कर लिया गया था। इन सभी आरोपियों में से एक ने तिहाड़ जेल में आत्महत्या कर ली थी। बाकि बचे आरोपियों को दोषी पाया गया। लेकिन एक आरोपी को नाबालिग होने के कारण बाल सुधार गृह में 3 साल के लिए रखा गया। अन्य आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई गई।

निर्भया केस के नाबालिग आरोपी की वायरल फोटो:

आजकल सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रही है। जिसके लिए यह दावा किया जा रहा है कि यह फोटो निर्भया केस के नाबालिग आरोपी मो. अफ़रोज़ की है। लोग सोशल मीडिया पर मो. अफ़रोज़ की फोटो कुछ इस तरह शेयर कर रहे हैं। “Mohammed Afroz the 5th accused in the infamous Nirbhaya rape and murder case, and the most cruel and perverted one (the one who inserted a steel rod into the victim), who escaped death sentence being a juvenile then. Now he is out of juvenile home stay and now he is reported to have vanished from Delhi to south India. He may be working in some hotels or anywhere and nobody may recognise him. So kindly keep sharing this message and photo. Let him never be able to work or stay anywhere and may such heinous acts not be repeated.”

Nirbhaya-juvenile

लोगों ने इस फोटो और इस मैसेज को अब अपने फेसबुक और ट्विटर अकाउंट पर भी खूब शेयर किया है।

 

यह पोस्ट सोशल मीडिया पर इतनी ज्यादा शेयर हुई कि अब अगर आप फेसबुक के सर्च कॉलम में “Afroz Nirbhaya” सर्च करें तो आपको सबसे पहला लिंक इसी वायरल खबर का मिलेगा।

 

Nirbhaya afroz

निर्भया केस के नाबालिग आरोपी की फोटो का वायरल सच

जब हमने इस वायरल खबर और वायरल फोटो की सच्चाई का पता लगाने की कोशिश की। तो पता चला कि वायरल फोटो एक ट्विटर अकाउंट @anehabeti से ली गयी है। इस ट्विटर अकाउंट में केवल 2 ट्वीट की गई है और यह ट्विटर अकाउंट 2010 में बनाया गया था। और इस अकाउंट में आखिरी ट्वीट 6 सितम्बर 2013 को की गई थी।

 

mohammad afroz

अब सवाल ये उठता है कि जब नाबालिग आरोपी 2012 से 2015 तक बाल सुधार गृह में था, तो सितम्बर 2013 में ट्वीट कैसे कर सकता है ? इससे यह तो साफ़ है कि न तो ट्विटर अकाउंट “@anehabheti” निर्भया केस के नाबालिग आरोपी का है। और न ही मो. अफ़रोज़ की वायरल हो रही फोटो निर्भया केस के नाबालिग आरोपी की है।

अब बात करते है नाबालिग आरोपी के नाम की। वायरल मैसेज में यह दावा किया जा रहा है कि निर्भया केस के नाबालिग आरोपी का नाम मो. अफ़रोज़ है। जोकि सरासर एक अफवाह है क्योकि नाबालिग आरोपी के नाम का खुलासा पुलिस या मीडिया द्वारा कभी नहीं किया गया। आरोपी का नाम पूरी तरह से गोपनीय रखा गया था।

Share the News and Let the people know the truth
Related Posts

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this:
Read previous post:
Nirav Modi
क्या नीरव मोदी ने देश से भागने के लिए कांग्रेस को चुकाई कीमत ?

  आजकल सोशल मीडिया पर एक ही खबर दिखाई दे रही है कि कैसे नीरव मोदी ने PNB बैंक के...

Close