रवीश कुमार बोले मुझे दुख हैं मोदी जैसा गुंडा मेरा प्रधान मंत्री है: सच या एक अफवाह

रवीश कुमार बोले मुझे दुख हैं मोदी जैसा गुंडा मेरा प्रधान मंत्री है: सच या एक अफवाह

रवीश कुमार बोले मुझे दुख हैं मोदी जैसा गुंडा मेरा प्रधान मंत्री है: सच या एक अफवाह

गौरी लंकेश की हत्या के बाद सभी अपने अपने विचार व्यक्त कर रहें हैं, चाहे वो मीडिया हो या सोशल मीडिया। कुछ लोग दुःख व्यक्त कर रहे हैं, वहीं कुछ लोग गौरी लंकेश की हत्या को सही बताते हुए गालिया भी दे रहे हैं।

nikhil tweet

रवीश कुमार बोले मुझे दुख हैं मोदी जैसा गुंडा मेरा प्रधान मंत्री है: सच या एक अफवाह

ऊपर दिखाई गयी tweet पर रवीश कुमार ने अपने विचार व्यक्त किये परन्तु उनके शब्दों को तोड़ मड़ोरकर कुछ अलग तरह से पेश किया गया। Fake News  के इस चलन में एक बार फिर सोशल मीडिया बिना जानकारी हासिल किये इस खबर को शेयर किये जा रहा है।  Social Media पर चारो तरफ यही खबर है की रवीश कुमार ने कहा मुझे दुख हैं मोदी जैसा गुंडा मेरा प्रधान मंत्री है। किसी ने इतनी भी ज़हमत उठाने की कोशिश नहीं की एक बार रवीश कुमार की वीडियो सुन तो ले।लोग इतने अंध भक्त हो चले है की इतना करना भी मुनासिब नहीं समझते की शेयर करने से पहले एक बार खबर की जाँच कर ले की आखिर सच क्या है।

विडम्बना तो यह है जिसकी हत्या हुई वो अंतिम दिनों में फेक न्यूज़ के बारे में लोगों की जानकारी बढ़ाने के लिए ही सम्पादिकीय लिख रहीं थी। और अब उन्ही की हत्या पर फेक न्यूज़ का सिलसिला चलाया जा रहा है, यहाँ तक कि उनकी हत्या के बाद उनका धर्म तक बदल दिया गया

We Support Narendra Modi public group जिस के 2,394,101 मेंबर्स है उस पर भी यह न्यूज़ शेयर की गयी  और लोग उस पर रवीश कुमार को गन्दी गन्दी गालिया दे रहे है और दलाल बता रहे

ravish kumar we support narendra modi

 

ये भी पढ़ें:- क्या विजय माल्या ने चुकाई भागने की कीमत ???

 

इस वीडियो में आप सुन सकते हैं की आखिर रवीश कुमार ने क्या कहा, यक़ीनन रवीश कुमार ने प्रधानमंत्री की तारीफ नहीं कि परन्तु उनको गुंडा भी नहीं कहा। रवीश ने कहा कि मुझे दुःख है कि हिंदुस्तान की जनता ने जिस व्यक्ति को हिंदुस्तान की गद्दी सौपी है वो किसी ऐसे इंसान को फॉलो करता है जो किसी के मरने पर उसको कुतिया लिखता है।

ऐसा नहीं है सब लोग अंध भक्त हो चले है कुछ लोग अंध भक्ति छोड़ कर अपनी समझदारी की परिचय भी देते हैं। जहाँ सब लोग गालिया दे रहे थे वहीं एक बन्दे ने सच्चाई बताने की कोशिश भी की, परन्तु दुखद बात की लोग उसी को उल्टा सीधा बोलने लगे

speak-the-truth

 

अंत में हम आप सबसे बस यही कहना चाहते है कि किसी भी खबर को सोशल मीडिया पर शेयर करने से पहले उस खबर की सच्चाई का पूरी तरह से पता लगा लें ताकि आप भी किसी अफवाह को फ़ैलाने में शामिल न हों।

 

Update on 10th Sep 2017:

ऊपर दी हुई पोस्ट को आगे बढ़ाते हुए हम आगे के अपडेट आपके सामने रख रहे हैं। दिनांक 8th Sep 2017 को पत्रकार रवीश कुमार “जिनके ऊपर यह इल्ज़ाम लग रहा था कि उन्होंने प्रधानमंत्री जी को गुंडा बोला है” ने फेसबुक के अपने official Account पर सच्चाई को जनता के सामने रखा है, कि उन्होंने मोदी जी के लिए गुंडा शब्द का प्रयोग नहीं किया।

 

ravish kumar safai

और रविश कुमार NDTV पर लाइव आकर इस बात को साफ़ किया कि उनकी बातों को तोड़ मरोड़ को जनता के सामने पेश किया जा रहा है और उन्होंने इसकी घोर निंदा की और अपनी बात पर अडिग रहे कि उन्होंने मोदी जी के लिए गुंडा शब्द का प्रयोग नहीं किया।

रविश कुमार की NDTV video देखने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

 

 

 

 

Share the News and Let the people know the truth
Related Posts
comments

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this:
Read previous post:
baba asali nakali
सोशल मीडिया में वायरल “जेल में सजा काट रहा रामरहीम असली या नकली” का सच

  जैसा कि हम अपनी पिछली पोस्ट "राम रहीम बाबा के डेरे में सेना : एक अफवाह !!" में जान...

Close